Saturday, 11 May 2013



आर्मी सप्लाई में करोड़ों की धांधली
जागरण संवाददाता, जम्मू : सेना की उत्तरी कमान के एक मेजर जनरल द्वारा सैन्य सप्लाई के दौरान करोड़ों रुपये की धांधली का पर्दाफाश हुआ है। इस सनसनीखेज मामले में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने मेजर जनरल के ऊधमुपर, गुड़गाव, दिल्ली तथा पंजाब स्थित ठिकानों पर छापा मारकर करोड़ों रुपये की चल-अचल संपत्ति का पता लगाया है। सीबीआई के जम्मू ब्रांच के एसपी अमनदीप सिंह का कहना है कि ये छापे एक साथ मारे गए और इस दौरान उन्होंने नॉर्दर्न कमान में आर्मी सप्लाई कोर के मेजर जनरल वीके शर्मा के ठिकानों से बैंक की कई पासबुक, एफडी, तथा संपत्ति से संबंधित दस्तावेज बरामद किए हैं। बैंक के लॉकरों में भी सोना, और आपत्तिजनक दस्तावेज भी बरामद हुए हैं। इन छापों से आय से अधिक संपत्ति अर्जित होने का खुलासा हुआ है। इस संपत्ति से मेजर जनरल ने गुड़गांव, दिल्ली, पंजाब में फ्लैट्स और जमीनें खरीदी हुई हैं।

सिंह ने बताया कि उत्तरी कमान के जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ लेफ्टिनेंट जनरल केटी परनायक ने ठेकेदार की एक शिकायत पर मामले की खुफिया जांच करवाई। उन्होंने जांच में पाया कि उत्तरी कमान में सेना के जवानों के लिए 250 करोड़ रुपये की होने वाली खाद्य पदार्थो की सप्लाई के लिए मेजर जनरल दो फीसद कमीशन रिश्वत के तौर पर ले रहा था, जो पांच करोड़ रुपये बनती है। लेफ्टिनेंट जनरल परनायक ने इस मामले की जांच सीबीआई से करवाने की सोची और इसी के तहत सीबीआई ने शुक्रवार को एक साथ दिल्ली, पंजाब और ऊधमपुर में मेजर जनरल के आवासों पर छापे मारे। सीबीआई एसपी अमनदीप सिंह का कहना है कि मेजर जनरल वीके शर्मा के ठिकानों से मिली संपत्ति और दस्तावेजों की छानबीन की जा रही है और जल्द ही उन्हें पूछताछ के लिए हिरासत में लिया जा सकता है।
Source: http://www.jagran.com/jammu-and-kashmir/jammu-10359526.html

No comments:

Post a Comment